Select Page
चरथावल (मुजफ्फरनगर) : थाना क्षेत्र के दधेडू कला गांव स्थित रविदास मंदिर में मंगलवार शाम लाउडस्पीकर पर भजन बजाने पर दूसरे संप्रदाय के कुछ लोगों ने हमला बोल दिया। उन्होंने माइक तोड़ दिया। वे अजान के समय लाउड स्पीकर पर भजन बजाने का विरोध कर रहे थे। इससे गांव में सांप्रदायिक तनाव फैल गया। मौके पर पहुंची पुलिस की गाड़ी पर पथराव किया गया। हालांकि इससे पहले कि हालात बिगड़ते पुलिस व प्रशासन के आला अधिकारियों ने गांव में डेरा डाल दिया। दोनों पक्षों के जिम्मेदार लोगों के साथ बैठक कर अजान के दस मिनट बाद लाउड स्पीकर बजाने पर सहमति बनी। इधर, दो संदिग्ध हिरासत में लिए गए हैं। गांव में फोर्स तैनात है।

दधेड़ू कला गांव में रविदास मंदिर है। बताया गया कि मंगलवार शाम मंदिर में भजन बजाए जा रहे थे, तभी दूसरे संप्रदाय के कुछ शरारती तत्व मंदिर में घुस आए। उन्होंने अजान के समय भजन बजाने का विरोध करते हुए माइक बंद करने को कहा। मंदिर में मौजूद लोगों ने जब यह कहा कि पहले से भजन बजता रहा है तब वे आक्रोशित हो गए। उन्होंने मंदिर मे बैठे युवकों पर हमला कर दिया और वहां लगा माइक तोड़कर फेंक दिया। इस पर दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। इस दौरान कुछ लोगों ने पुलिस की गाड़ी पर पथराव कर दिया।

एसपी सीटी संतोष मिश्र व सीओ सदर अकील अहमद भी मौके पर पहुंच गए। लोगों ने शरारती युवकों की हरकत से पुलिस को अवगत कराया। मामले की गंभीरता को देखते हुए डीएम दिनेश ¨सह व एसएसपी दीपक कुमार भी मौके पहुंचे। उन्होंने दोनों पक्षों के लोगों के साथ बैठक कर हालात संभाले। मुस्लिम पक्ष के जिम्मेदार लोगों ने भी घटना की निंदा की। चरथावल थाने में यह लिखकर दिया गया कि अजान के 10 मिनट बाद ही मंदिर में लाउडपीकर से भजन बजाया जाएगा।

उधर, पूछताछ के लिए दो आरोपियों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। एसएससी दीपक कुमार का कहना है कि दोनों पक्षों के जिम्मेदार लोगों से बात हो गई है। लाउडस्पीकर बंद कराने वाले पक्ष ने अपनी गलती मानी है। गांव में पूरी तरह से शांति है। ऐहतियातन फोर्स तैनात कर दी गई है। आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।