Select Page

आईएस के इंडियन मुजाहिदीन मॉड्यूल हैदराबाद में मंदिरों और पुलिस स्टेशनों पर हमला करने की फिराक में था। उसने इसकी पूरी साजिश भी बना ली थी।

संदिग्धों से एनआईए की पूछताछ में पता चला है कि पुलिस स्टेशन, चारमीनार के निकट भाग्यलक्ष्मी मंदिर सहित कई अन्य अहम जगह निशाने पर थे। एजेंसियां संदिग्धों की साजिश की जानकारी एकत्र करने का प्रयास कर रही हैं। पूछताछ में आरोपी हबीब ने बताया कि उसने सल्फ्यूरिक एसिड, एसीटोन, हाइड्रोजन पैराक्साइड हैदराबाद और आंध्र प्रदेश के अनंतपुर से खरीदा था। हबीब इब्राहिम के साथ नांदेड़ दो पिस्टल खरीदने भी गया था। दोनों अजमेर भी गए थे लेकिन आर्म्स डीलर ने हथियार मुहैया नहीं कराए।

इब्राहिम ने हाल ही में सऊदी अरब के वीजा के लिए आवेदन किया था। एजेंसियां यह जानने की कोशिश कर रही हैं कि वहां वह किन लोगों से मिलना चाहता था। वह पहले भी सऊदी अरब में दो साल रह चुका है। एजेंसियां सऊदी प्रशासन से भी संपर्क करेंगी।