कराची के एक हॉस्पिटल के आईसीयू में 32 वर्षीय एक पाकिस्तानी हिंदू डॉक्टर कथित रूप से संदेहास्पद परिस्थितियों में मृत पाया गया। सीनियर पुलिस अधिकारी नईमुद्दीन ने बताया कि अनिल कुमार शुक्रवार तड़के सर्जिकल आईसीयू में गए थे जिसके बाद वहां वह एक कुर्सी पर बैठे मृत पाए गए। उन्होंने बताया, ‘वह संदिग्ध परिस्थितियों में मृत पाए गए इसलिए उनकी मौत के कारण के संबंध में जांच की जा रही है।’

अधिकारी के अनुसार सर्जिकल शाखा का दरवाजा खटखटाने पर भी जब कुमार ने उसे नहीं खोला तो दरवाजा तोड़ा गया। सर्जिकल शाखा में कुमार को कुर्सी पर बैठे पाया गया, लेकिन उनकी मौत हो चुकी थी। घटनास्थल से एक सुई मिली है। नईमुद्दीन ने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि उन्होंने अपने हाथ में इंजेक्शन लगाया था। शव को हॉस्पिटल के शवगृह में ले जाया गया।

डॉक्टर की मौत के कारण का पता लगाने के लिए पोस्टमॉर्टम किया जाएगा। सुई को भी जांच के लिए फॉरेंसिक प्रयोगशाला में भेज दिया गया है। सिंध प्रांत में इस हफ्ते की शुरुआत में धर्म परिवर्तन करके इस्लाम अपनाने वाले एक हिंदू द्वारा पवित्र कुरान की बेअदबी के खिलाफ हो रहे विरोध प्रदर्शनों के दौरान भीड़ में से किसी व्यक्ति ने एक अन्य युवा हिंदू कारोबारी की गोली मारकर हत्या कर दी थी और उसके हिंदू मित्र को घायल कर दिया था।

LEAVE A REPLY