आगरा: मथुरा हाइवे पर एक महिला को चलती गाड़ी से मार-पीट कर फेंका गया| आरोपी के खिलाफ महिला के भाई ने फराह स्टेशन में शिकायत दर्ज करवाई है| आरोपी ने इस घटना को अपने भाइयों के साथ अंजाम दिया|

आरोपियों के नाम हैं तौफ़ीक़ कुरैशी, शाह आलम और चाँद कुरैशी| पहले इन तीनों ने महिला, जो की दूसरे धर्म से ताल्लुक रखती है, को अगवा किया और बाद में शादी का दबाव डाला| जब उसने शोर मचाया तो उसको तेज़धार हथियारों से मारा गया और लाहुलुहन अवस्था में चलती गाड़ी से फेंक कर ये तीनों आरोपी आगरा की तरफ टोल प्लाज़ा पोल तोड़ते हुए भाग गये|

तौफ़ीक़ ने उसको इसीलिए फेंका क्यूंकी महिला उसकी बात मानने को तैयार नहीं थी और लगातार शोर से आकर्षित होकर लोगों ने आरोपियों की गाड़ी का पीछा करना शुरू कर दिया था जिससे ये तीनों भाई डर गये और इन्होने महिला को उठाकर बेदर्दी से बाकी वाहनों के सामने कुचलने के लिए फेंक दिया|

महिला के भाई ने ये भी बताया की तौफ़ीक़ काफ़ी समय से उसे ज़बरदस्ती निकाह करना चाहता था और उसको डराने के लिए अगवा किया गया था घायल महिला एक स्कूल में टीचरहै और फिलहाल स्वर्ण जयंती अस्पताल, मथुरा में भरती है| खबर लिखने तक कोई और कार्यवाही नहीं हुई है|

फिलहाल इस घायल शिक्षिका की हालत ठीक बताई जा रही है पर फिर भी उसकी जान पर से ख़तरा पूरी तरह से टला नहीं है| उसके परिवार वालों का रो-रो कर बुरा हाल है|

इस तरह की जबरन विवाह की घटनायें बढ़ती जा रही है जो इस बात को दिखता है की देश में महिलाओं की स्तिथि में सुधार आने में और वक़्त लगेगा|

LEAVE A REPLY